October 16, 2019
Daily Events

Law as one of the most popular course among students

New Delhi: Being a gateway for admission to premier law colleges including National Law Universities in India, CLAT Results for UG and PG students plays a vital role to make their dreams to enroll into a best college for law into a reality. Giving advice on legal matters is a lifelong duty of a lawyer and a dream for many CLAT aspirants after senior secondary education or bachelors. CLAT 2019 is going to be conducted on 26th May, 2019 this year, which was scheduled on 12th May, 2019 before. The national level exam will be conducted by NLU’s on a rotational basis. This year NLU Cuttack, Odisha will host the exam.

Over the past few years, registrations for CLAT have been increasing remarkably showed that law is emerging as one of the most opted courses by the students.

The aspirants who are preparing for CLAT 2019 must ensure that they are thorough with Exam Pattern and syllabus. Other than this, they should have a proper study time table, the company of good books and study material. Just be confident and focus on your strong areas said Mr. Amandeep Rajgotra, National Product Head Law, Pratham Education.

The CLAT 2019 will be held in offline mode tentatively in over 65 examination centres across India and will be valid for admissions into the 21 NLUs participating in CLAT along with the other over 25 private law schools.


छात्रों के बीच लॉ सबसे लोकप्रिय करियर ऑप्शन

नई दिल्लीः भारत में क्लैट का परिणाम न सिर्फ नैशनल लॉ यूनिवर्सिटी सहित प्रीमियर लॉ कॉलेजों में प्रवेश के लिए महत्तवपूर्ण है बल्कि छात्रों के बेस्ट लॉ कॉलेज में एडमिशन के सपने को पूरा करने में भी सबसे अहम भूमिका निभाता है। कानूनी मामलों पर सलाह देना एक वकील का आजीवन कर्तव्य होता है वहीं सीनियर सेकेंडरी स्कूल या ग्रेजुएशन के बाद कई क्लैट उम्मीदवारों के लिए यह कर्तव्य एक सपना बन जाता है। क्लैट 2019 का आयोजन इस वर्ष 26 मई, 2019 को होने जा रहा है जो पहले 12 मई, 2019 के लिए निर्धारित किया गया था। इस राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा को ओड़िसा स्थित एनएलयू आयोजित करेगी।

पिछले कुछ वर्षों में क्लैट के बढ़ते रेजिसट्रेशन से यह स्पष्ट होता है कि लॉ छात्रों के बीच सबसे चर्चित कोर्स बन रहा है। नई दिल्ली में हर साल छात्र उमदा परिणामों के साथ पास होते हैं जिससे यह स्पष्ट है कि भारत की राजधानी भी लॉ की रेस में तेजी से आगे बढ़ रही है।

प्रथम एजुकेशन के नैशनल प्रॉडक्ट हेड लॉ श्री अमनदीप राजगोत्रा का कहना है कि “जो उम्मीदवार क्लैट 2019 की तैयारी कर रहे हैं, उन्हें परीक्षा के पैटर्न और सिलेबस की अच्छी समझ होनी चाहिए। इसके अलावा, उनके पास सही टाइम टेबल और अच्छी किताबें होनी चाहिए। अगर उन्हें लगता है कि परीक्षा का कठिनाई स्तर उनके मुकाबले अधिक है तो घबराएं नहीं,  बस कॉन्फिडेंट रहें और अपने स्ट्रॉग पॉइंट्स पर फोकस बनाए रखें।“

क्लैट 2019 की परीक्षा भारत में लगभग 65 एग्जामिनेशन सेंटर्स में ऑफलाइन मोड में आयोजित होगी। 


Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *