September 23, 2019
Art-n-Culture

एक क्लिक तो बनती है आज!

फोटोज हमेशा से ही आपकी एलबम का अहम हिस्सा रही हैं। अनेक यादों को सजों कर रखने का काम जो करती हैं। जब खुले तब ही अनेकों किस्से, चुटकियों लेने का मजा….। देखा हंसी आ गई ना चेहरे पर। मोबाइल ने वैसे तो इस एलबम को सजोने का काम कुछ कुछ कम कर दिया है क्योंकि मोबाइल की सेल्फी कब डीपी में बदलती है, पता ही नहीं चलता। लेकिन यह बात तो आप भी मानेगें कि मोबाइल की क्रिएटिविटी और ढेरों लाइक्स आज भी, फोटोग्राफर्स का मुकाबला नहीं कर सके जो हाथ में कैमरा लिए, चेहरों की मुस्कान और लड्डू खाते लोगों की मिठास चुरा लेते है। 19 अगस्त को दुनियाभर में वर्ल्ड फोटोग्राफी डे के तौर पर मनाया जाता है। यह फोटोग्राफी डे उन लोगों को समर्पित है, जो इस प्रोफेशन से जुड़े हैं। जो इस प्रोफेशन को बढ़ावा देने का काम करते हैं। ताकि वे खुद पर गर्व महसूस कर सके। इस दिन को मनाने के पीछे भी एक बहुत इंटरेस्टिंग कहानी है।

दुनिया की पहली फोटोग्राफी

दरअसल, आज से लगभग 180 पहले एक ऐसी घटना घटी, जिसके बाद से इस दिन को मनाने की शुरुआत की गई। सबसे पहले इस दिन की शुरुआत फ्रांस में 9 जनवरी 1939 में की गई। उस वक्त डॉगोरोटाइप फोटाग्राफी प्रक्रिया की घोषणा की गई थी। इस फोटोग्राफी प्रक्रिया का आविष्कार जोसेफ नाइसफोर और लुइस डॉगेर ने किया था। यह दुनिया की पहली फोटोग्राफी प्रक्रिया थी। इसके कुछ महीनों बाद ही 19 अगस्त 1839 को फ्रांस की सरकार ने इस आविष्कार की घोषणा की। यह दुनिया की पहली फोटोग्राफी प्रक्रिया थी। इसी दिन की याद में वर्ल्ड फोटोग्राफी डे मनाया जाता है। अधिकारिक तौर पर इस दिन की शुरुआत साल 2010 में हुई थी। इस दिन को खास बनाने का काम ऑस्ट्रेलिया के एक फोटोग्राफर ने किया। उसने अपने साथी फोटोग्राफर्स को इक्_ा किया और इस दिन का प्रचार प्रसार किया।

इसी दिन उन्होंने 270 फोटोग्राफरों की तस्वीरों को पहली बार ऑनलाइन गैलरी के जरिए पेश किया। जिसके बाद हर साल इसकी संख्या बढ़ती जा रही है। आज लोग फोटोग्राफी को एक प्रोफेशन की तरह चुन रहे हैं। साथ ही फोटोग्राफर्स के हुनर को पूरी दुनिया देख रही है। खास बात यह है कि अब तो सोशल मीडिया के जरिए अपनी क्रिएटिविटी को आसानी से दिखाया जा सकता है। फोटोग्राफर्स अच्छी तस्वीरों के लिए अलग-अलग जगह पर घूमने जाते हैं और अपनी तस्वीरों को ब्लॉग आदि के माध्यम से पोस्ट करते हैं। आज फोटोग्राफी विज्ञान, विनिर्माण और व्यापार के साथ-साथ कला, फिल्म और वीडियो उत्पादन, मनोरंजन जगत, जनसंचार हर क्षेत्र में की जा रही है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *