November 13, 2019
Home Archive by category Politics

Politics

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट में राजा राम चंद्र के वंशज होने का दावा करने वाले अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजा राजेन्द्र सिंह ने केद्रीय मंत्री डा.जितेन्द्र सिंह से भारत सरकार के नार्थ ब्लाक स्थित कार्मिक मंत्रालय में औपचारिक भेंट किया और भारत के दमदार प्रधानमंत्री और गृहमंत्री जी के साथ धारा 370 और 35ए हटाने में अहम भूमिका निभाने वाले केंद्रीय मंत्री डा.जितेंद्र सिंह को बहुत-बहुत बाधाई दिया। राजा राजेन्द्र सिंह के कहा कि भारतवर्ष के साथ इस इस महान कार्य करने के लिए भारत की अगली पीढ़ी भी माननीय प्रधानमंत्री जी, गृहमंत्री जी और केंद्रीय मंत्री का एहसान मानेगी। क्यों कि ये एक समाज को कंलीक करने वाला काला कानून था। जिससे अलगाववादियों और आतंकवादियों का जन्म होता था इससे अब देश को मुक्ति मिलेगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ लाल जी सिंह, आनंद सिंह और कई पदाधिकारियों ने भी केंद्रीय मंत्री की सराहना की।

Arun Jaitley, former Union Finance Minister and Senior BJP leader, passed away at AIIMS today. Jaitley was admitted to AIIMS since August 9. Jaitley held the portfolio of Union Finance Minister in the first term of PM Narendra Modi-led Union Government. He was also the Defence Minister for a brief time. Jaitley was just 66 years old. 

“It is with profound grief that we inform about the sad demise of Shri Arun Jaitley, Hon’ble Member of Parliament & Former Finance Minister, Government of India at 12:07 pm on 24. August, 2019. Shri Arun Jaitley was admitted in AIIMS, New Delhi on 09/08/2019 and was treated by a multidisciplinary team of senior Doctors,” AIIMS said in an official statement. 

गंगटोक/नई दिल्ली
सिक्किम की प्रमुख पार्टी सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट (एसडीएफ) के 10 विधायक मंगलवार को राजधानी नई दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। 10 MLAs of Sikkim Democratic Front join BJP पूर्व सीएम पवन कुमार चामलिंग सहित 5 विधायकों को छोड़कर शेष सभी विधायक बीजेपी में शामिल हो गए। इस के साथ सिक्किम में अभी तक खाता नहीं खोल सकी बीजेपी के पाले में 10 विधायक हो गए।
सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट ने पूर्वोत्तर के प्रमुख प्रदेश सिक्किम पर 25 सालों तक शासन किया। बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे. पी. नड्डा और महासचिव राम माधव की मौजूदगी में मंगलवार को पार्टी के संस्थापक तथा पांच बार के मुख्यमंत्री चामलिंग सहित 5 अन्य विधायकों को छोड़ बाकी सभी विधायक बीजेपी से जुड़ गए। पार्टी में अभी कुल 15 विधायक हैं। बीजेपी सिक्किम विधानसभा चुनाव में एक भी सीट नहीं जीत सकी थी, लेकिन अब बीजेपी के वहां 10 विधायक हो गए हैं।

नई दिल्ली: पूर्व विदेश मंत्री और बीजेपी की सीनियर लीडर सुषमा स्वराज का दिल्ली के एम्स अस्पताल में निधन हो गया। वे लंबे अर्से से बीमार चल रही थीं और उनका किडनी ट्रांसप्लांट भी हुआ था। बीमारी की वजह से ही उन्होंने 2019 लोकसभा चुनाव से खुद को अलग रखा था। वर्ष 2014 में सुषमा स्वराज को विदेश मंत्रालय का प्रभार मिला था। बीजेपी के शासन के दौरान सुषमा दिल्ली की मुख्यमंत्री भी रही थी। उन्हें दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री बनने का गौरव प्राप्त हुआ था।
सुषमा स्वराज का जन्म 14 फरवरी 1952 को हुआ था। उन्होंने अंबाला में एसडी कॉलेज अम्बाला छावनी से बीए किया और पंजाब यूनिवर्सिटी से चंडीगढ़ से लॉ की पढ़ाई की थी। सुषमा स्वराज ने 1974 के छात्र आंदोलन में भी बढ़-चढकर हिस्सा लिया था। सुषमा स्वराज के निधन की खबर सुनते ही डॉ. हर्षवर्धन, नितिन गडकरी, मनोज तिवारी एम्स पहुंच गए।

Delhi Aug 05: Home Minister Amit Shah announced in Rajya Sabha that the govt had chosen to repeal Article 370 of the Constitution which, together with Article 35 A, gives J&K unique status.

The government has also chosen to divide the State into two regions of the Union – Jammu and Kashmir with a parliament (Legislature), and Ladakh without a parliament (Legislature) .

Mumbai: Maharashtra Chief Minister Devendra Fadnavis pays tribute at Shaheed Samarak, on the 20th Kargil Vijay Diwas, in Mumbai on Friday. also School children event. Photo Girish Srivastav/26.07.2019

दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित का शनिवार को निधन हो गया। 81 वर्षीय शीला दीक्षित लंबे समय से बीमार थीं। फिलहाल कांग्रेस ने उन्हें दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी दे रखी थी। 15 साल तक राजधानी की मुख्यमंत्री रहीं शीला दीक्षित का दिल्ली के एस्कॉर्ट अस्पताल में निधन हो गया। बता दें कि अपने निधन से कुछ दिनों पहले तक वह राजनीति में खासी ऐक्टिव थीं और हाल ही में उन्होंने दिल्ली में नए जिलाध्यक्षों की नियुक्ति भी की थी।
यही नहीं कांग्रेस पार्टी दिल्ली के आगामी विधानसभा चुनावों में उन्हें सीएम के चेहरे के तौर पर उतारने की तैयारी में थी। दिल्ली में कांग्रेस की सरकार जाने के बाद केरल की राज्यपाल भी रही थीं। इसके अलावा कांग्रेस ने यूपी विधानसभा चुनाव में उन्हें मुख्यमंत्री के चेहरे के तौर पर भी पेश किया था। शीला को हमेशा से गांधी-नेहरू परिवार का करीबी माना जाता था।
शीला दीक्षित को समन्वयवादी राजनीति और विकास का चेहरा माना जाता रहा है। दिल्ली में मेट्रो के नेटवर्क का विस्तार हो या फिर बारापूला जैसे बड़े रोड नेटवर्क उन्हीं की देन माने जाते हैं। दिल्ली में उनके सहयोगी मंत्री रहे महाबल मिश्रा ने शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि देते हुए कहा उनके निधन से हुए नुकसान की भरपाई नहीं की जा सकती।

Mumbai : Fishermen outside MNS Residence to meet MNS President Raj Thackeray regarding issue of Fish markert Mahatma Phule Market, Dadar to shift Airoli Market in Mumbai on Thursday. Photo Girish Srivastav/18.07.2019

Mumbai : Fishermen outside MNS Residence to meet MNS President Raj Thackeray regarding issue of Fish markert Mahatma Phule Market, Dadar to shift Airoli Market in Mumbai on Thursday. Photo Girish Srivastav/18.07.2019