July 2, 2020
Health

दिल्ली में कोरोना वायरस की डिस्चार्ज पोलिसी में होए बदलाव

नई दिल्ली: दिल्ली में कोरोना मरीजों के डिस्चार्ज नियमों में बदलाव किया गया है अब यदि 3 दिन तक बुखार नहीं होता है तो कॉविड संक्रमित या संदिग्ध मरीज को छुट्टी दी जा सकती है हालांकि केंद्र सरकार यह बदलाव पिछले महीने ही कर चुकी है लेकिन दिल्ली सरकार ने अब केंद्र की सिफारिशों का हवाला देते हुए अस्पतालों को इन नियमों पर पालन करने के आदेश दिया। स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव विक्रम देव दत्त ने सभी अस्पतालों के निदेशक और चिकित्सीय अधीक्षकों को निर्देश दिए हैं कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के निर्देशानुसार डिस्चार्ज पोलिसी में बदलाव किए गए है। इसके तहत अगर किसी मरीज में प्री-सिम्पटोमेटिक माइल्ड या फिर बहुत माइल्ड लक्षण है तो उन्हें कोविड़ निगरानी केंद्र में रखते हुए हर दिन उनकी ऑक्सीजन और बुखार की जांच की जाएं।

यदि 3 दिन तक बुखार नहीं होता है तो उक्त मरीज को डिस्चार्ज किया जा सकता है। हालांकि वम मरीज को यह सलाह देनी है कि वह घर जाकर भी आइसोलेशन में ही रहे। इसके अलावा कोविड मरीज को लक्षण मिलने के 10 दिन बाद भर्ती किया जा सकता है । इससे पहले मरीज को डिस्चार्ज करते वक्त नेगेटिव रिपोर्ट आना जरूरी था। लेकिन नए दिशा निर्देश के अनुसार गंभीर छोड़कर अन्य मरीज को डिस्चार्ज करते समय उसकी दोबारा जांच करने की जरूरत नहीं है। अगर किसी मरीज में संक्रमण का असर मध्यम है तो 10 दिन बाद बगैर दवा दिए बुखार ना मिलने पर डिस्चार्ज किया जा सकता है। गंभीर मरीजों को डिस्चार्ज करने की स्थिति को भी स्पष्ट किया गया है। चिकित्सीय तौर पर रिकवरी होने और लक्षण खत्म होने के बाद आरटी पीसीआर जांच नेगेटिव मिलने के बाद डिस्चार्ज किया जा सकता है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *