July 28, 2021
Home Posts tagged Politics
Politics


अमेरिका के विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकन मंगलवार 27 जुलाई को भारत दौरे पर आ रहे हैं. वह दो दिनों तक 27 और 28 जुलाई को भारत की यात्रा पर रहेंगे. अमेरिका के विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकन 27 जुलाई को दो दिन की यात्रा पर भारत पहुंचेंगे. इस दौरान ब्लिंकन, पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे
अमेरिकी विदेश मंत्री अपने भारतीय समकक्ष विदेश मंत्री एस जयशंकर से से भी मुलाकात करेंगे. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के चुनाव के बाद और ब्लिंकन के अमेरिकी विदेश मंत्री का पदभार संभालने के बाद उनकी यह पहली भारत यात्रा होगी.
अमेरिकी विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकन भारत दौरे में सुरक्षा, रक्षा, साइबर और आतंकवाद विरोधी सहयोग के विस्तार के एजेंडे समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा करेंगे. अमेरिका विदेश विभाग ने शुक्रवार को कहा कि यह नए शीर्ष अमेरिकी राजनयिक की भारत की पहली यात्रा है, जो एशिया में एक महत्वपूर्ण अमेरिकी सहयोगी है. ब्लिंकन सोमवार शाम वाशिंगटन से रवाना होंगे और मंगलवार 27 जुलाई देर रात नई दिल्ली पहुंचेंगे. बुधवार 28 जुलाई को अमेरिका विदेश मंत्री, भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री एस जयशंकर से मुलाकात करेंगे.
दक्षिण और मध्य एशियाई मामलों के राज्य ब्यूरो के कार्यवाहक सहायक सचिव डीन थॉम्पसन ने कहा कि भारत की यात्रा में एजेंडे के विषयों मेंसुरक्षा, रक्षा साइबर और आतंकवाद विरोधी सहयोग का विस्तार करने पर ध्यान केंद्रित करना होगा. थॉम्पसन ने यह भी कहा कि सचिव ब्लिंकन और रक्षा सचिव ल्योड ऑस्टिन इस वर्ष के अंत में वार्षिक यूएस इंडिया 2+2 मंत्रिस्तरीय वार्ता में अपने भारतीय समकक्षों की मेजबानी करने के लिए उत्सुक हैं.

Politics

देशभर में ऑक्सीजन के लिए मची अफरा तफरी के बीच हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बड़ी मांग उठाई है। ऑक्सीजन प्लांट्स के संचालन संबन्धी समस्याओं के चलते अनिल विज ने अब ये मांग की है कि ऑक्सीजन प्लांट्स का संचालन और नियंत्रण सैन्य या अर्ध सैन्य बलों को सौंप देना चाहिए।

anil viz

विज ने कहा कि इनकी सुरक्षा की दृष्टि और निरंतर संचालन की दृष्टि से ये कदम उठाया जाना चाहिए , क्योंकि अगर एक भी प्लांट रुक जाता है तो लोगों की सांसें रुक जाती हैं। विज ने बताया कि रोज़ाना प्लांट्स में दिक्कतें आ रही हैं। इनका निरंतर चलते रहना बेहद जरूरी है।

सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना के बढ़ते प्रकोप पर सरकार के सामने सवाल खड़े किए हैं। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से बच्चों की वैक्सीन को लेकर पूछा है कि सरकार के क्या बंदोबस्त हैं। इस सवाल के जवाब में विज ने कहा कि हरियाणा राज्य बच्चों की वैक्सिनेशन के लिए तैयार है। जैसे ही बच्चों की वैक्सीन अप्रूव होगी और राज्य को मिलेगी वैसे ही इसकी शुरुआत कर दी जाएगी।

हरियाणा में 7 दिन का लॉकडाउन क्या और आगे बढ़ाया जा सकता है। इस सवाल के जवाब में विज ने फिलहाल लॉकडाउन बढ़ने की चर्चाओं पर विराम लग दिया है। विज ने कहा कि इस लॉक डाउन में उम्मीद है कि कोरोना के फैलने पर रोक लगेगी।

देशव्यापी लॉक डाउन को लेकर राहुल गांधी इन दिनों हिंदी और इंग्लिश में ट्वीट कर रहे हैं। जिसमें वो इंग्लिश में तो संपूर्ण लॉकडाउन की मांग कर रहे है और हिंदी ट्वीट में लॉकडाउन पर सवाल खड़े कर रहे हैं। ऐसे में सूबे के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने राहुल गांधी पर तीखा तंज कसा है। विज ने कहा कि राहुल गांधी को खुद समझ नहीं आता कि उन्हें क्या कहना है। ऐसे में राहुल गांधी को घर बैठकर पहले सोचना चाहिए कि वो करना क्या चाहते है।

बंगाल हिंसा को लेकर ममता बनर्जी ने बीजेपी को इसका दोषी बताया है। ममता बनर्जी के ब्यान पर भी अनिल विज ने पलटवार किया है। विज ने कहा कि ऐसा कहकर ममता बनर्जी ये कहने की कोशिश कर रही हैं कि मुख्यमंत्री होने के बावजूद बंगाल उनके नियंत्रण में नहीं है। विज ने कहा कि हिंसा रोकने की जिम्मेदारी ममता की है और इसके किये वो दूसरों ओर दोष नहीं मढ़ सकती।

Politics

महाराष्ट्र सरकार की ओर से दिए गए मराठा आरक्षण को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है। 5 जजों की संवैधानिक बेंच ने आरक्षण पर सुनवाई करते हुए कहा है कि इसकी सीमा को 50 फीसदी से ज्यादा नहीं बढ़ाया जा सकता। इसके साथ ही अदालत ने 1992 के इंदिरा साहनी केस में दिए गए फैसले की समीक्षा करने से भी इनकार कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने मराठा आरक्षण को खत्म करते हुए कहा कि यह 50 फीसदी  की सीमा का उल्लंघन करता है। अदालत ने कहा कि यह समानता के अधिकार का हनन है। इसके साथ ही अदालत ने 2018 के राज्य सरकार के कानून को भी खारिज कर दिया है।

दरअसल महाराष्ट्र सरकार ने 50 फीसदी सीमा से बाहर जाते हुए मराठा समुदाय को नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में आरक्षण का ऐलान किया था। राज्य सरकार की ओर से 2018 में लिए गए इस फैसले के खिलाफ कई याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई थीं, जिन पर सुनवाई करते हुए शीर्ष अदालत ने यह फैसला सुनाया है। फैसला सुनाते हुए जस्टिस भूषण ने कहा कि वह इंदिरा साहनी केस पर दोबारा विचार करने का कोई कारण नहीं समझते। अदालत ने मराठा आरक्षण पर सुनवाई करते हुए कहा कि राज्य सरकारों की ओर से रिजर्वेशन की 50 पर्सेंट लिमिट को नहीं तोड़ा जा सकता। 

supreme

जस्टिस भूषण बोले, समानता के अधिकार के खिलाफ है 50 पर्सेंट की सीमा तोड़ना

जस्टिस अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली बेंच ने केस की सुनवाई करते हुए कहा कि मराठा आरक्षण देने वाला कानून 50 पर्सेंट की सीमा को तोड़ता है और यह समानता के खिलाफ है। इसके अलावा अदालत ने यह भी कहा कि राज्य सरकार यह बताने में नाकाम रही है कि कैसे मराठा समुदाय सामाजिक और आर्थिक तौर पर पिछड़ा है। इसके साथ ही इंदिरा साहनी केस में 1992 के शीर्ष अदालत के फैसले की समीक्षा से भी कोर्ट ने इनकार कर दिया है। 

जानें, क्या था इंदिरा साहनी केस में अदालत का फैसला

बता दें कि 1992 में 9 जजों की संवैधानिक बेंच ने आरक्षण की 50 फीसदी की सीमा तय की थी। इसी साल मार्च में 5 जजों की संवैधानिक बेंच ने इस पर सुनवाई पर सहमति जताई थी कि आखिर क्यों कुछ राज्यों में इस सीमा से बाहर जाकर रिजर्वेशन दिया जा सकता है। हालांकि अब अदालत ने इंदिरा साहनी केस के फैसले की समीक्षा से इनकार किया है। 5 जजों की बेंच में अशोक भूषण के अलावा जस्टिस एल. नागेश्वर राव, एस. अब्दुल नजीर, हेमंत गुप्ता और एस. रवींद्र भट शामिल थे।

Politics

International Workers’ Day, also known as Labour Day in most countries and often referred to as May Day, is a celebration of labourers and the working classes that is promoted by the international labour movement and occurs every year on May Day (1 May)

May Day, also known as Workers’ Day or International Workers’ Day, is a day celebrated in many countries on May 1 to commemorate the historic sacrifices and victories of workers and the labour movement. Labor Day, celebrated on the first Monday in September in the United States and Canada, is a related holiday.

May Day is a May 1st holiday of a millennia-long and diverse tradition. There have been several various celebrations and festivals around the world over the years, often for the sole intention of bringing in a change of season (spring in the Northern Hemisphere). May Day took on a different significance in the 19th century, when an International Workers’ Day arose out of the 19th-century labour movement in the United States for worker’s rights and an eight-hour workday. The date for May Day 2021 is Saturday, May 1, 2021.

Is May Day a Communist?

Since the Second International, May Day has been a focal point for demonstrations by various socialist, communist, and anarchist groups. In communist countries like China, North Korea, Cuba, and the former Soviet Union, May Day is one of the most important holidays.

Which countries celebrate May Day?

It is also observed in Central and South America, as well as in some parts of the Caribbean. Labor Day is observed at various times throughout the year in the United States, Australia, and Canada.

Who started May Day in Indai ?

Labour Kisan Party of Hindustan

The Labour Kisan Party of Hindustan organised the first May Day in India on May 1, 1923, in what was then Madras. Meanwhile, May Day was renamed ‘Maharashtra Day’ and ‘Gujarat Day’ in 1960 to commemorate the birth of these two states.

Politics

नई दिल्‍ली. खेल जगत से दिल दहला देने वाली खबर आ रही है. कुश्‍ती का फाइनल मुकाबला हारने के बाद भारतीय महिला पहलवान रितिका ने सुसाइड कर लिया है. रितिका बबीता फोगाट (babita phogat), गीता फोगाट की ममेरी बहन थीं. उन्‍होंने सोमवार की रात को गांव बलाली में फंदा लगाकर खुदकुशी की. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रितिका ने 12 से 14 मार्च तक राजस्‍थान के भरतपुर के लोहागढ़ स्‍टेडियम में हुए राज्‍य स्‍तरीय सब जूनियर, जूनियर महिला और पुरुष कुश्‍ती टूर्नामेंट में हिस्‍सा लिया था.

14 मार्च को फाइनल मुकाबला खेला गया था, जिसमें रितिका एक अंक से मैच हार गई थीं. इस हार के बाद से ही वह सदमे में थी और फिर 15 मार्च को रात करीब 11 बजे बलाली गांव के घर में पंखे पर दुपट्टे का फंदा लगाकर आत्‍महत्‍या कर ली.

राजस्थान के झुंझुनू जिले के गांव जैतपुर की रहने वाली 17 साल की रितिका अपने फूफा द्रोणाचार्य अवार्डी महावीर पहलवान के गांव बलाली स्थित कुश्ती एकेडमी में करीब 5 साल से अभ्‍यास कर रही थी. 53 किग्रा भार वर्ग में राज्‍य स्‍तर पर एक अंक से मिली हार से रितिका इस कदर टूट गई कि उन्‍होंने खतरनाक कदम उठा लिया. वह इससे पहले करीब 4 बार राज्‍य स्‍तरीय प्रतियोगिता में हिस्‍सा ले चुकी थीं.

Politics

Chandigarh, March 11: The UN Global Forum for Road Traffic Safety has appreciated the initiative launched by Haryana Police for reducing the deaths and injuries due to road accidents on NH-44 (Sonipat-Ambala Highway).

Under this initiative, Haryana Police has fixed the target of reducing the number of road accidents and number of deaths on the 187-Kms long stretch of NH-44 passing through Haryana by 33% in the current year.

In this context, Director General of Police (DGP), Haryana, Mr. Manoj Yadava addressed a webinar of UN Global Forum for Road Traffic Safety wherein he highlighted various components of this initiative and mentioned that during the year 2018, 743 people have died due to road accidents on this stretch, which is more than the total number of deaths in entire Netherlands and UAE during that year.

He also explained that Haryana Police had signed an MOU with Institute of Road Traffic Education (IRTE) for carrying out Road Safety audits of every Km of NH-44 passing through Haryana.

The road engineering related improvements suggested by IRTE will be implemented by National Highway Authority of India (NHAI) as part of the special understanding by Haryana Police and Department of Transport (Government of Haryana).

Since a large number of road fatalities are accounted for by pedestrians and cyclists who met accidents while trying to cross NH-44, Haryana Police alongwith the other stakeholder authorities will create underpasses and foot over-bridges at points where large numbers of pedestrians cross the road, particularly at busy points in Sonipat district and Panipat.

This road safety initiative will also create a direct impact on the frequent road users like buses, trucks and trolleys drivers, and people who stop at the food outlets as they will be educated about the road safety tips.

In order to create strong deterrent for law breakers, Haryana Police is placing a network of speed checking radars, interceptors, Automatic Number Plate Readers (ANPRs) and CCTV cameras at different locations along with the Highway passing through five districts of Sonipat, Panipat, Karnal, Kurukshetra and Ambala.

Politics
  • First digital Budget in the history of India
  • Vehicle Scrapping Policy. Vehicle Fitness Test after 20 years in case of Personal vehicle and 15 years in case of commercial vehicles
  • 64,180 crores allocated for New Health Schemes
  • 35,000 crores allocated for Covid Vaccine
  • 7 Mega Textile Investment parks will be launched in 3 years
  • 5.54 lakh crore provided for Capital Expenditure
  • 1.18 lakh crore for Ministry of Roads
  • 1.10 lakh crore allocated to Railways
  • Proposal to amend Insurance Act. Proposal to increase FDI from 49% to 74 %.
  • Deposit Insurance cover (DICGC Act 1961 to be amended). Easy and time bound access of deposits to help depositors of stress banks.
  • Proposal to revive definition of ‘Small Companies’ under Companies Act 2013. Capital less than 2 Cr. and Turnover Less than 20 Cr.
  • Disinvestment: IPO of LIC, Announced Disinvestment of Companies will be completed in FY 2021-22

Direct and Indirect tax

  1. Senior Citizens: Reduced Compliance burden. 75 years and above. Proposal not to file ITR if only pension income and interest income.
  2. Reduction in time for IT Proceedings: Reopening of Assessments period reduced from 6 years to 3 years except in cases of serious tax evasion cases
  3. Proposal to constitute ‘Dispute Resolution Committee’. (Taxable income 50 lakhs and disputed income 10 lakh).
  4. National Faceless Income Tax Appellate Tribunal Centre
  5. Relaxations to NRI: Propose to notify rules for removing hardship for double taxation.
  6. Tax Audit Limit: Proposal of tax audit increased from 5 Cr. to 10 cr. (Only for 95% digitized payments business)
  7. Propose to provide relief on advance tax liability on dividend income.
  8. Propose to include tax holidays for Aircraft leasing companies
  9. Prefiling of returns (Salary, Tax payments, TDS etc.) Details of Capital gains from listed Securities, dividend income, etc. will be prefilled
  10. Small Charitable Trusts. Increased from 1 crore to 5 crores (Compliance limit)
  11. Late deposit of employee’s contribution by employer will not be allowed as deduction
  12. Incentive to startup: Tax holiday exemption for one more year
  13. Duties reduced on various textile, chemicals and other products
  14. Gold and Silver (BCD reduced)
  15. Agriculture Products: Custom duty increased on cottons, silks, alcohol etc.
Politics

किसान बॉर्डर खाली करवाने पहुंचे लोग

शांति बनाए रखने की अपील कर रहे हैं लोग

सिंधु बॉर्डर पर पत्थरबाजी शुरू

आंदोलनकारियों को स्थानीय ग्रामीणों में झड़प

आंदोलनकारियों और ग्रामीणों में पत्थरबाजी

आंदोलनकारियों के टेंट में घुसे ग्रामीण

बॉर्डर खाली करवाने पहुंचे स्थानीय ग्रामीण

सिंधु बॉर्डर पर लाठीचार्ज

हाईवे खाली करने की मांग को लेकर प्रदर्शन

आंसू गैस के गोले छोड़े रही पुलिस

Politics

शाहनवाज हुसैन बिहार विधान परिषद के निर्विरोध सदस्य चुने गये।

प्रसिद्ध कवि एवं प्रेरक वक्ता श्री सचिन शालीन जी ने भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री शाहनवाज हुसैन जी से मिलकर उनको बिहार विधान परिषद निर्विरोध सदस्य चुने जाने एवं नई जिम्मेदारियों के लिए फूलों का गुल्दस्ता भेट कर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी ।

Politics

Prime Minister Narendra Modi will visit Kolkata to address ‘Parakram Diwas’ celebrations on January 23 to commemorate 125th birth anniversary of Netaji Subhas Chandra Bose.

This was confirmed by the Prime Minister’s Office. The PM will also visit Jerenga Pathar in Sivasagar, Assam to distribute 1.06 lakh land pattas/allotment certificates, the PMO said.

The state unit of the BJP had earlier requested Prime Minister Narendra Modi to address a public meeting in Kolkata on January 23. Sources said that the Prime Minister’s Office (PMO) has now prepared a schedule accordingly.

The Narendra Modi-led NDA government at the Centre had recently declared that Netaji Subhas Chandra’s birthday will be celebrated as ‘Parakram Diwas’ every year on January 23. The announcement was made by the Union Ministry of Culture, which said, “To honour and remember Netaji’s indomitable spirit and selfless service to the nation. The GoI has decided to dedicate his birthday (January 23) every year as ‘Parakram Diwas’.”

“The people of India fondly remember Netaji Subhas Chandra Bose’s unparalleled contribution to this great nation in his 125th birth anniversary. The Government of India has decided to celebrate the 125th birth anniversary year of Netaji beginning from January 2021 in a befitting manner at the national and international level,” the Ministry said